असदउद्दीन ओवेसी ने मोदी के दिया,मोमबती वाले अपील को कहा ”ड्रामा” बंद करे पीएम

0

देश में कोरोना वायरस को लेकर लगातार प्रधानमंत्री देश को संवोधन कर रहे है। 22 मार्च को जनता कफ्यू का ऐलान करते हुए मोदी ने जनता से अपील की थी कि शाम 5 बजे दो मिनट के लिए ताली,थाली,घंटी बजाकर देश के उन लोगों का प्रोत्साहन बढ़ाए जो कोरोना से लड़ने में अहम भूमिका निभा रहे है। वही 3अप्रेल को प्रधानमंत्री ने सुबह 9 बजे जनता क संबोधन करते हुए 5 अप्रेल को रात के 9 बजे 9 मिनट तक घर की लाईटों को बंद कर मोमबती,दिया,टार्च जलाकर देश को अंधकार से उजाले की ओर ले जाने की बात की है।

इसी को लेकर एमआईएम के अध्यक्ष असदउद्दीन ओवेसी ने मोदी पर निशाना साधते हुए ट्विटर पर ट्वीट कर ये कहा कि यह देश कोई इवेंट कंपनी नहीं है। भारत के लोग भी इंसान हैं, जिनके अपने सपने और आशाएं हैं। हमारी जिंदगियों को 9 मिनट के हथकंडों में ना घटाएं।’ उन्होने कहा हम किसी नए ड्रामे की अपेक्षा यह जानना चाहते हैं कि कोरोना संक्रमण से लड़ाई के संबंध में सरकार की ओर से राज्‍यों और गरीब लोगों को क्‍या-क्‍या मदद मिलेगी। आगे ओवैसी ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा है कि यह ट्यूब-लाइट आइडिया वास्तव में यूनीक था।

पूरे भारत में लाखों भूखे, गरीब और बेघर लोग प्रवासियों के रूप में अपने घरों के लिए जा रहे हैं, मैं पूछना चाहता हूं लाइट कहां है। ओवैसी ने आगे पीएमओ से कहा है कि मुझे पता है कि आप केवल पॉजिटिव वाइब्स चाहते हैं और कुछ मुद्दों को उठाना नहीं चाहते हैं, लेकिन लाइट कहां है? ओवेसी ने लगातार टिवट् कर सरकार पर हमला बोलते हुए कोरोना से लड़ने के लिए सरकार के पास कोई ठोस उपाय है या फिर ताली,थाली, मोमबती,दिया जलाकर कोरोना को भगाने का काम करेगें। देश में लगातार प्रवासी मजदूर पलायन करने को मजबूर है।उनकी जिम्मेदारी कौन लेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here