BJP और RSS ने घोल दी मुसलमानों के खिलाफ नफरत: ओवैसी

0

By Muslim Mirror Staff-reporter

नई दिल्ली : भारत में हिंसक हिंदू चरमपंथी समूहों द्वारा अल्पसंख्यकों पर हमले जारी रिपोर्ट को जहाँ भारत ने इस रिपोर्ट को खारिज किया वही विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि एक विदेशी संस्था द्वारा हमारे नागरिकों के संविधान संरक्षित अधिकारों की स्थिति पर टिप्पणी करने का कोई औचित्य नहीं है.

इस रिपोर्ट को ख़ारिज के कुछ ही घंटे बाद झारखंड में ‘मॉब लिंचिंग’ के बाद अस्पताल में मुस्लिम युवक की मौत की खबर पूरी मीडिया द्वारा सामने आया वही इस घटना की वीडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हुआ.

इस घटना के बाद AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मॉब लिंचिंग की घटनाएं नहीं रुक सकती क्योंकि बीजेपी और आरएसएस ने लोगों के दिमाग में मुस्लिमों के प्रति नफरत की भावना बढ़ा दी है.

अखिल भारतीय मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन के प्रमुख ने मीडिया से कहा, ‘ये घटनाएं हमेशा मोदी को डराएंगी, क्योंकि प्रधानमंत्री के रूप में वे इसे रोक नहीं सके.’

हालांकि देश में हो रही लगातार मॉब लिंचिंग के घटनाओ को लेकर ओवैसी पहले भी बीजेपी, नरेंद्र मोदी और आरएसएस पर सवाल उठाते रहे हैं. अभी हाल में उन्होंने कहा कि ‘पीट-पीट कर मार डालना (मॉब लिंचिंग) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विरासत है. मोदी को भारतीय इतिहास में मॉब लिंचिंग के लिए याद रखा जाएगा, क्योंकि उनके कार्यकाल में इस तरह की सबसे ज्यादा घटनाएं हुई हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here