राम पुनियानी हम एक ऐसे दौर से गुजर रहे हैं जब सामाजिक मानकों और संवैधानिक मूल्यों का बार-बार और लगातार उल्लंघन हो रहा है. पिछले कुछ वर्षों में दलितों पर बढ़ते अत्याचार और गौरक्षा के नाम पर अल्पसंख्यकों की लिंचिंग ने समाज को झिंझोड़ कर रख दिया है. इस सबके...
लोकसभा में प्रचंड बहुमत के साथ आई भाजपा सरकार को बांग्लादेश में 42 सीटों में से 18 पर जीत मिली थी। लेकिन अब भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता पाने के लिए भारतीय होना अनिवार्य होना ज़रूरी नहीं रह गया है तभी कोलकाता में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष...
By Khurram, Muslim Mirror  प्रचण्ड बहुमत के साथ फिर से एक बार मोदी ने लोकसभा का चुनाव जीता और फिर से सरकार बना कर दोबारा प्रधानमंत्री बन कर पूर्व प्रधानमंत्री जवाहलाल नेहरू और मनमोहन सिंह की बराबरी की। और शपथ ले कर अपने मंत्रिमंडल का गठन भी कर लिया। लेकिन युवाओं को...
राम पुनियानी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सन 2014 के आम चुनाव में अपनी जीत के बाद, ‘सबका साथ, सबका विकास’ का नारा दिया था. अब उन्होंने इस नारे में ‘सबका विश्वास’ भी जोड़ दिया है. मुस्लिम समुदाय के कई प्रमुख लेखक और कार्यकर्ता खुद को यह भरोसा दिलाने का जतन...
आज़म सिद्दीक़ी, इलेक्शन के नतीजों से बिल्कुल भी मायूस होने की ज़रूरत नहीं है। क्योंकि बतौर मुसलमान हम सबका अक़ीदा है कि अल्लाह की मर्ज़ी के बिना इस पूरी कायनात में एक पत्ता भी नहीं हिल सकता। तक़दीर पर राज़ी रहना हर मुसलमान का दीनी फ़रीज़ा है। जब हम अल्लाह से...
आखिरी चरण के चुनाव के बाद से एग्जिट पोल की तमाम ख़बरें मीडिया और सोशल मीडिया पर चलाई जा रही हैं. इन सभी में बात कॉमन कि सभी में एनडीए को यूपीए से कहीं-कहीं ज़्यादा सीटें मिलने की घोषणा पहले ही कर दिया. ज्यादातर ने एनडीए को सरकार बनाते...
अदील अख़तर लोकसभा चुनाव के सभी चरण पूरे होने के बाद अब देश को नतीजों का इंतेजार है, लेकिन नतीजे आने से भी पहले नई सरकार के गठन के लिए दोड़धूप शुरू हो गयी है। नई सरकार कौन कौन सी पार्टियां मिल कर बनाएंगी और प्रधानमंत्री कौन होगा यह अभी...
खुर्रम मालिक आज गूगल ने मशहूर फारसी कवि, गणितज्ञ, दार्शनिक, कवि और खगोलशास्त्री उमर ख़ैय्याम को उनके जन्मदिन पर डूडल बनाया। 18 मई 1048 को उत्तर पूर्वी ईरान में जन्मे उमर खैय्याम कई उल्लेखनीय गणित और विज्ञान की खोज की। उमर ख़ैय्याम (1048–1131) फ़ारसी साहित्यकार, गणितज्ञ एवं ज्योतिर्विद थे। इनका जन्म...
लेखक  मनोज अभिज्ञान आरएसएस की स्थापना चितपावन ब्राह्मणों ने की और इसके ज्यादातर सरसंघचलक अर्थात् मुखिया अब तक सिर्फ चितपावन ब्राह्मण होते आए हैं. क्या आप जानते हैं ये चितपावन ब्राह्मण कौन होते हैं ? चितपावन ब्राह्मण भारत के पश्चिमी किनारे स्थित कोंकण के निवासी हैं. 18वीं शताब्दी तक चितपावन ब्राह्मणों...
राम पुनियानी वैश्विक आतंकवाद ने भयावह स्वरुप अख्तियार कर लिया है. 9/11 2001 से हालात बिगड़ने शुरू हुए और यह सिलसिला अब भी जारी है. ट्विन टावर्स पर हमले के बाद से, आतंकवाद को एक धर्म विशेष से जोड़ने की कवायद शुरू हो गयी और अमरीकी मीडिया ने ‘इस्लामिक आतंकवाद’...