दिल्ली के निजामउद्दीन में कोरोना वायरस,50 से 70 संदिग्ध लोग शामिल

0

दुनियाभर में करीब सभी जगहों पर कोरोना वायरस ने दस्तक दे दिया है। भारत भी कोरोना वायरस के चपेट में है। पूरे देश में कोरोना का खौफ है। केरला और महाराष्ट्र में कोविड-19 का केस सबसे ज्यादा है। लेकिन ताजा मामला सामने आया है दिल्ली के मरकज का जहां पर तबलीगी जमात में कोरोना संक्रमण का कई मामला सामने आया है। बता दे दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के लोगों में बड़ी तादाद में कोरोना का संक्रमण पाया गया है। तबलीगी जमात के चलते ही मुस्लिम समुदाय का सबसे बड़ा शिक्षण संस्थान देवबंद भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गया है।

बताया जा रहा है कि निजामुद्दीन के पास मस्जिद से 50 से 70 कोरोना संदिग्ध मरीजों को पकड़ा गया है। ये सभी कोरोना संदिग्ध दुबई की यात्रा करके आए थे और निजामुद्दीन की मस्जिद में छुपे हुए थे। इन 50 से 70 संदिग्धों को कल देर रात डीटीसी बस से लाकर लोकनायक अस्पताल के आइसोलेशन वॉर्ड में भर्ती किया गया। इन कोरोना संदिग्धों को पहले राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया था लेकिन वहाँ पर पहले से ही सारा बेड फुल होने के कारण दुसरे अस्पताल में भर्ती कराया गया। वही 500 ऐसे लोगों पर सरकार निगरानी रखी हुई है।

जो पिछले 2 मार्च से 20 मार्च के बाद मलेशिया, इंडोनेशिया से 40 तबलीगी जमात भारत आया हुआ था। एशिया का सबसे बड़े मदरसे कहलाना वाला दारुल उलूम देवबंद के बहुत से छात्र भी निगरानी में हैं। जिसमे कोरोना वायरस होने का शक है। और सरकार इन तमाम लोगों पर नजर बनाए हुए है। जिससे लोगों की जान बचाई जा सके। ताकि दूसरे लोग भी इसके चपेट में ना आ सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here