COVID-19 के बढ़ते मामलों के कारण जामा मस्जिद दोबारा बंद?

0

 

दिल्ली की जामा मस्जिद (Jama Masjid) को फिर से बंद किया जा सकता है इसकी जानकारी जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने बुधवार दी. इससे पहले शाही इमाम के सचिव अमानुल्ला की मंगलवार रात को सफदरजंग अस्पताल में कोरोना वायरस के कारण मौत हो गई. इमाम ने कोविड-19 (COVID-19) के कारण दिल्ली में बिगड़ते हालात के को ध्यान में रखकर ये ब्यान दिया.

दिल्ली में मंगलवार को कोविड-19 के 1,366 नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या 31,309 पर पहुंच गई जबकि 905 लोग इस बीमारी से जान गंवा चुके हैं. वहीँ पूरे भारत की बात करें तो 9985 नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 276583 हो गयी है तथा 7745 लोगों को अपनी जान गँवानी पड़ी है. ऐसे में बुखारी का मस्जिद को बंद कर देने का फैसला सही लग रहा है. लेकिन साही इमाम ने इस पर लोगों को भी अपनी राय रखने के लिए कहा है.

बताते चलें कि अनलॉक -1 के तहत जामा मस्जिद को 8 जून को दोबारा खोला गया था. जबकि लॉकडाउन के दौरान लगभग पूरे दो महीने मस्जिद को बंद रखा गया था.

वहीँ बुखारी ने लोगों को अपने घरों पर ही नमाज़ अदा करने पर जोर देते हुए कहा कि मस्जिदों और भीड़ वाली जगहों से दूरी बनाकर रखें. अपने आपको ज्यादा लोगों के संपर्क में आने से बचायें. यही इस बीमारी का इलाज है.  बुखारी ने आगे कहा कि लॉकडाउन के कारण रमजान के दौरान और ईद पर भी ऐसा नहीं किया था.

पूरे देश में आठ जून से बाज़ार और ऑफिस समेत और भी कई प्रतिष्ठानों एवं धार्मिक स्थल खोलने के कारण भी कोरोना तेज़ी से फैला है. इमाम बुखारी ने इसके मद्देनजर को सरकारों से अपने फैसले पर पुन: विचार करने के लिए कहा है. जबकि पिछले लगभग दो महीने से सभी राज्यों की सरकारें लॉकडाउन के पक्ष में थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here