कोरोना वायरस के खौफ से मस्जिद में नमाज पढ़ने से मनाही घरों में नमाज पढ़ने की अपील

0

कोरोना वायरस के चलते देशभर में लोग खौफ के साये में जी रहे है। लोगों के बीच कई तरह के अफवाह भी फैलाये जा रहे है। वही सरकार ने भी कोरोना वायरस से बचने के लिए लोगों से अपील करते हुए घरों में 22 मार्च को रहने के लिए कहा। बता दे कि शुक्रवार को मुस्लिम समुदाय के लोगों से केंद्र और राड्य सरकार अपील कर रही है कि वो मस्जिदों में नमाज पढ़ने के बजाय अपने- अपने घरों में नमाज अदा करे। भीड़ भाड़ वाली जगहों पर ना जाए जिससे कोराना वायरस होने का डर रहता है।

वहीं लखनऊ के ईदगाह में इमाम राशिद फिरंगी  ने कोरोना वायरस को लेकर एक एडवायजरी जारी की है। उन्होंने कहा है मुस्लिम समुदाय से अपील की है कि बड़ी मस्जिदों में नमाज अदा करने की बजाए घर पर ही या मोहल्ले की मस्जिद में इबादत करें तो बेहतर है। राशिद फिरंगी महली ने कहा हमने एक एडवायजरी जारी की है जिसमें कहा गया है कि लोग बड़ी मस्जिदों में नमाज अदा करने में परहेज करें। इसकी बजाए लोग घर पर या मोहल्ले की मस्जिद में ही नमाज अदा कर सकते हैं। खासतौर से शुक्रवार को होने वाली नमाज को लेकर यह अपील की गई है।

जिससे लोग भीड़ इक्ठ्ठा ना करे औरल सतर्क रहे।कोरोना वायरस से बचने के लिए बुजुर्गो को मास्क लगाने का आदेश दिया है। जिससे उनका जान बच सके। वही बता दे कि कोरोना वायरस को देकते हुए मंदिर, गिरजाघरों को भी बंद करने का आदेश सरकार ने किया है। जिससे लोग एक जगह पर जमा ना हो सके। भारत में कोरोना से अबतक 4 लोगों की मौत हो चुकी है। जिसको देखते हुए सरकार ने जनता से जनता कफ्यू की 22 मार्च को अपने- अपने घरों में रहने के लिए कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here