देश में बेरोजगारी की मार चरम पर CMIE ने ताजा रिपोर्ट किया पेश

0

देशभऱ में बेरोजगारी घटने का नाम नही ले रहा है। सोमवार को बेरोजगारी का एक नया आकंड़ा जारी हुआ है।देश में छाई बेरोजगारी की असर फरवरी महीने में देश की बेरोजगारी दर पिछले चार महीने में सबसे उंचे स्तर पर पहुंच गई। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी के ताजा आंकड़ों के अनुसार फरवरी में भारत की बेरोजगारी दर बढ़कर 7.78% पर पहुंच गई, जो अक्टूबर 2019 के बाद से सबसे ज्यादा है। पिछले महीने जनवरी में बेरोजगारी दर 7.16% रही थी।

इसके साथ ही सीएमआईई ने ग्रामीण इलाके में बेरोजगारी का आंकड़ा भी जारी किया गया है। ताजा आंकड़ों के अनुसार देश के ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगारी दर पिछले महीने के 5.97 फीसद से कहीं अधिक बढ़कर फरवरी में 7.37 फीसद हो गई है।यह आंकड़ा अर्थव्यवस्था और देश की हाल बयां कर रहा है।2019 के आखिरी तीन महीनों में पिछले छह सालों से भी अधिक मंदी का शिकार हुआ है।

देश के विश्लेषकों का अनुमान है कि कोरोना वायरस की वजह से वैश्विक स्तर पर एशिया की इस तीसरी बड़ी इकोनॉमी में आगे भी और सुस्ती देखी जा सकती है। एक तरफ देश की अर्थव्यवस्था बद से बदतर होती जा रही है। लेकिन सरकार का इन मुद्दो पर कोई खास रवैया नही है। देश के युवा सरकार से सवाल पूछ रहे है,बेरोजगारी से आज सड़कों पर है लेकिन भाजपा सरकार कोई भी चुनाव के वक्त पूरा किया गया वादा पूरा नही कर पाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here